किसी से अपनी तुलना मत करो – Kisi Se Apni Tulna Mat Karo

किसी से अपनी तुलना मत करो – Kisi Se Apni Tulna Mat Karo
Spread the love

आप के जैसा दूसरा कोई और नहीं – Aap Ke Jaisa Dusra Koi Nahi

You are unique.

Kisi Se Apni Tulna Mat Karo :– चलो एक कहानी सुनाता हु, ये कहानी पढ़कर आपको मजा आ जायेगा। ये कहानी  है एक कौए की और कौआ कैसा होता है काला।

एक बार की बात है।  एक कौआ एक पेड़ पर बैठकर रो रहा था। तभी वहा से एक साधु गुजर रहे थे। अचानक एक पानी की बून्द उनके  चेहरे पर गिरी जब साधु ने ऊपर देखा तो एक कौआ पेड़ पर बैठ कर रो रहा था। साधु ने पूछा के क्या हुआ तुझे, तू क्यों रो रहा है , तुझको क्या दुःख है।

तो तुझको क्या तकलीफ है?

कौए ने कहा ; मुझे तो तकलीफ ही तकलीफ है ,में जहा भी जाता हु , काव-काव करता रहता हु। लोग मुझे अपनी छत पर से भी भगा देते है ,और मुझे कोई पूछा ता भी नहीं है अगर पूछता भी है तो सिर्फ श्राद के दिन , वो भी मुझे जूठा खाना खाने को मिलता है , ये कोई जीवन है ,ऐसा जीवन किस काम का।

इसपर साधु ने कहा तो तू कैसा जीवन चाहता है। इस पर कौए ने कहा अरे जीवन तो हंस का होता है शानदार जबरदरत। पानी में रहता है और पानी में ही अपने ही तैरता है और जीवन को कितने मजे से जी रहा है |

मुझे तो हंस के जैसा बनना है, मुझे भगवन ने कौआ बना कर मेरा जीवन ख़राब कर दिया। अगर में हंस बना होता तो कितना अच्छा होता।

साधु ने कहा ठीक है , में तुझको हंस बना देता है , पर मेरी एक शर्त है। तू पहले हंस से मिला कर उसके  जीवन को एक बार देख कर आ जा तो में तुझे हंस बना दूंगा।  कौए ने कहा ठीक है ,में अभी हंस से मिल कर आता ह।  और वह कौआ हंस से मिलने चला गया

जब वह हंस के पास गया तो बोलै हंस भाई कैसे हो , और अपनी लाइफ कैसी चल रही है।  आपका जीवन सबसे मस्त है ऐसे आराम का।

इसपर हंस ने कहा क्या बोल रहा है भाई तू। मेरा जीवन कोई जीवन है साला सफ़ेद रंग ये भी कोई रंग है ये तो कफ़न का रंग है। में पानी में रहता हु और पानी में ही तैरता हु ,जब कोई मुझे देखता  है हुए मेरी फोटो खींचता है तो में फोटो में आता ही नहीं  लगता ही नहीं की मेरी फोटो खींच रहा ही की पानी की। साला ये कोई जीवन है बकवास सफ़ेद रंग का।  अरे भाई लाइफ तो पोपट की है मस्त हरे रंग का होता है और सब लोग उसको कितना पसंद करते है।

तब कौए ने कहा क्या बात कर रहा है हंस भाई – तू खुश नहीं है , तब तो बहुत बड़ी गड़बड़ है

फिर कौआ कहता है साधु बाबा मुझे हंस नहीं पोपट बनाना है ,मुझे वो बना दो।  इसपर साधु कहता है ठीक है , में तुझको पोपट बना दूंगा लेकिन मेरी एक शर्त है , तू पहले पोपट से मिल कर आजा फिर में तुझके पोपट बना दूंगा। फिर कौआ और हंस पोपट से मिलने के किये उड़ जाते है। फिर दोनों एक पेड़ पर जाते है जहा पर बहुत सरे पोपट रहते है।  वो उस पेड़ के चार पांच चक्र लगाने के बाद उस पोपट से मिलते है और कहते है , पोपट भाई कैसे हो।

तुम्हारी जिंदगी है , मस्त हरे रंग के हो उसपर तुम्हारी ये लाल चोंच निखर जाती है ,तुम्हारा जिस्म भी कितना मस्त है , लोग तुमको कितना मानते है , तुमको पालते है मस्त मस्त खाने को मिलता है और कभी कभी तो तुमको लोग बादाम भी खिलते है। तुम्हारी जिंदगी कितना मस्त है।  काश मेरी भी जिंदगी तुम्हारी तरह होती तो जिंदगी जीने का मजा आ जाता ।

इसपर तोता बोला क्या मस्त जिंदगी है ,तुम लोगो ने इस पेड़ के चार चक्र लगाए तो में मिला ,तुम लोग मुझे देख भी नहीं पा रहे हो। इस हरे भरे पेड़ में मेरा रंग दिखाई ही नहीं देता। मेरा जीवन तो बहुत बेकार है।

इसपर कौए और हंस ने कहा क्या बात कर रहे हो पोपट भाई। हां में सच कह रहा हुआ। इसपर कौआ बोला ठीक है ,चलो मेरे साथ।  फिर तीनो उस साधु के पास आ गए और बोले  महाराज मुझे पोपट नहीं बनाना है।  फिर साधु ने कहा , तो अब बताओ तुमको क्या बनना है ,इसपर पोपट ने कहा बाबा अगर हमको आप मोरे बना देंगे तो , आपकी बहुत मेहरबानी होगी।  मोरे की जिंदगी कितने मस्त होती है , रंग बिरगे पंख , नॅशनल बर्ड।

साधु ने कहा ठीक है , मेर तुम तीनो को मोरे बना दूंगा , मेरी वही शर्त है।  एक बार तुम लोग मोरे से मिल कर आ जाओ और तीनो  फिर भागते हुए मोरे के पास चले गए, और बोले हे मोरे भाई कैसे हो।

भगवान ने तुमको क्या मस्त पंख दिया है , तुम नेशनल बर्ड हो।  जब तुम बारिश में नाचते हो , तो लोग तुम्हारा नाच देखने के लिए इंतज़ार करते है , तुम्हारी फोटो खींचेते है , लोग युम्हारे कितने दीवाने है आहा।। तुम कितने खुशनसीब हो।  काश अगर हमको भी तुम्हारी तरह मोरे बनने का मौका मिलता तो हमारी लाइफ भी कितने मस्त और खुशहाल होती।

इसपर मोरे बोला -तुमको किसने बोला की मेरी लाइफ मस्त और खुशहाल है। मेरी लाइफ मस्त नहीं है। मुझे बहुत तकलीफ है।

कौए ने कहा कैसे ?
मोरे ने कहा -तुमको कोई आवाज सुनाई दे रही है , कोई आ रहा है , वो शिकारी है , जो मेरा शिकार करने आ रहा है। उसने मेरी माँ को मार डाला उसके पुरे पंख को नोच डाला और उसको मार्किट में बेच देगा और उसका जीवन समाप्त कर डाला।  यहाँ हमको पता ही नहीं की कितने दिन जीना है और कब मरना है?

कौआ बोला -तो तुम्हारे हिसाब से मुझे क्या बनाना चाहिए?
फिर मोरे ने जवाब दिया मेरे हिसाब से इस दुनिया में सबसे खुश तू है।

कौआ बोला वो कैसे ?
मोरे बोला -तूने कभी मटन बिरयानी सुनी है। चिकन बिरयानी सुनी है। ये दोनों चीजों को लोग मार कर खा जाते है मगर कौए को कोई मार कर नही खाता। लोगो को तुझसे कोई तकलीफ नहीं है और तुझको लोगो से कोई तकलीफ नहीं है।  तू मस्त जिंदगी जी रहा है अपनी मस्ती में। हमें तो अगले घंटे का नहीं पता की हमारे साथ क्या होगा ,कोन हमको मार देगा।तो तुझसे बढ़िया इस दुनिया में कोई खुश नहीं है। तू जिस रंग रूप में है खुश है।

“आप जो भी हो ,जिस अवस्था में हो जिस रंग रूप में हो , आप सही हो।  किसी से अपनी तुलना मत करो।  भगवान ने आपको Unique बनाया है।  क्यकि जो आप हो वो कोई और नहीं हो सकता ,कोई भी आप की तरह नहीं बन सकता।  इसलिए अपने आप पर विश्वाश करो और अपने जीवन में खुश रहो। किसी से अपनी तुलना मत करो। भगवान ने आप को जो भी और जैसा भी बनाया है , आपके बारे में पूरा सोच समझ कर ही बनाया है।”

सारांश :- तुम्हारे जैसा न आदमी कोई और है और न कोई और होगा। क्यकि जो तुम हो वैसा कोई दूसरा हो ही नहीं सकता।  कभी अपनी तुलना किसी से मत करो । तुम्हारे पास जो है , उसी से आगे बढ़ने की कोशिस करो और आगे बढे।

” You are the unique personality . so don’t compare your self to anyone .”

Merikahani

Merikahani

दोस्तों मेरा नाम पंकज है | मैं एक Digital Marketing Expert और Blogger हूँ | मैं अपने इस ब्लॉग में आपके लिए मोटिवेशन से भरपूर कहानिया लेकर आता रहूँगा , जिससे आपको Motivation मिलेगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!